कुशीनगर :: परिवारिक कलह सेे तंग आ कर सिपाही ने जहर खा कर गवांई जान

डेस्क, कुशीनगर केसरी, कुशीनगर। सिपाही का भरा पूरा परिवार था लेकिन ईश्वर को कुछ और ही मंजूर था। मृतक सिपाही राजेश तीन भाई थे और यह सबसे छोटे थे और गोरखपुर जनपद के शाहपुर थाने पर यूपी पुलिस की 100 नंबर सेवा में तैनात थे। उन्होंने घर पर ही परिवारिक कलह से तंग आकर जहर खा लिया और यह बात सिर्फ अपनी मां को बताया। मां को जानकारी होने पर वह तुरंत आनन-फानन में उन्हें इलाज हेतु मेडिकल कॉलेज गोरखपुर ले गए और वहां उपचार के दौरान ही उनकी मृत्यु हो गई।




गौरतलब है कि अहिरौली बाजार थाना क्षेत्र के ग्राम सोहरौना निवासी उत्तर प्रदेश पुलिस के कांस्टेबल राजेश सिंह ने आज जहर खाकर आत्महत्या कर ली। मिली जानकारी के अनुसार राजेश सिंह पुत्र मुंशी सिंह गोरखपुर जनपद के शाहपुर थाने में यूपी पुलिस की 100 नंबर में कार्यरत थे और छुट्टी लेकर घर आए हुए थे। उन्होंने घर पर ही परिवारिक कलह से तंग आकर जहर खा लिया और यह बात सिर्फ अपनी मां को बताया। मां को जानकारी होने पर वह तुरंत आनन-फानन में उन्हें इलाज हेतु मेडिकल कॉलेज गोरखपुर ले गए और वहां उपचार के दौरान ही उनकी मृत्यु हो गई। मेडिकल कॉलेज में ही शव का पोस्टमार्टम हुआ और देर शाम सिपाही का शव गांव आया। जहां उसकी पत्नी, बेटी ,बेटे एवं मां और परिवारी जनों का रो-रो कर बुरा हाल था। मृतक सिपाही के परिवार में उसकी पत्नी दो बेटियां और एक बेटा है। मृतक सिपाही राजेश सिंह वर्ष 2006 में उत्तर प्रदेश पुलिस की सेवा में चयनित हुआ था और 2007 में उसका विवाह हुआ। सिपाही का भरा पूरा परिवार था। लेकिन ईश्वर को कुछ और ही मंजूर था।मृतक सिपाही राजेश तीन भाई थे और यह सबसे छोटे थे और गोरखपुर जनपद के शाहपुर थाने पर यूपी पुलिस की 100 नंबर सेवा में तैनाती थी।



Popular posts
कुशीनगर :: भूमि के झगड़े को लेकर एक अधेड़ को पीटकर उतारा मौत के घाट, केस दर्ज, चार हिरासत में
मोतिहारी :: डीएसपी दिनेश कुमार पांडेय ने बच्चों को दिया शिक्षा, पढ़ाया संस्कार और नैतिकता का पाठ
Image
कुशीनगर :: रिपोर्ट के बारे में पूछने गए गुण्डागर्दी करते हुए डाक्टर ने परिजन को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, मुकदमा नहीं हुआ दर्ज, पीड़ित हुआ न्याय से वंचित
Image
कुशीनगर :: गोरखपुर -फैजाबाद खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचक नामावलियों के पुनरीक्षण हेतु दावे/आपत्तियां प्राप्त करने की निर्धारित अंतिम तिथि 26 दिसंबर 2019 को आगे बढाते हुए संशोधित कार्यक्रम किया गया निर्धारित
Image
कुशीनगर :: पडरौना बाईपास सड़क निर्माण कार्यों में होने वाले भ्रष्टाचार का जीता जागता उदाहरण है, जल्द डीएम से मिलकर कुशीनगर सिविल सोसाइटी भ्रष्टाचार के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही का अनुरोध करेगा : गिरीशचन्द्र चतुर्वेदी
Image