कुशीनगर :: अपार प्रेम और समर्पण का प्रतीक है भैया दूज का त्यौहार

सुनील कुमार तिवारी, कुशीनगर केसरी, कुशीनगर। भाईदूज का त्योहार कार्तिक मास की द्वितीया को मनाया जाता है। यह त्योहार भाई बहन के स्नेह को सुदृढ़ करता है। यह त्योहार दीवाली के दो दिन बाद मनाया जाता है। इस दिन विवाहित महिलाएं अपने भाइयों को घर पर आमंत्रित कर उन्हें तिलक लगाकर भोजन कराती हैं। वहीं, एक ही घर में रहने वाले भाई-बहन इस दिन साथ बैठकर खाना खाते हैं। मान्यता है कि भाईदूज के दिन यदि भाई-बहन यमुना किनारे बैठकर साथ में भोजन करें तो यह अत्यंत मंगलकारी और कल्याणकारी होता है।


Popular posts
मोतिहारी :: डीएसपी दिनेश कुमार पांडेय ने बच्चों को दिया शिक्षा, पढ़ाया संस्कार और नैतिकता का पाठ
Image
कुशीनगर :: गोरखपुर -फैजाबाद खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचक नामावलियों के पुनरीक्षण हेतु दावे/आपत्तियां प्राप्त करने की निर्धारित अंतिम तिथि 26 दिसंबर 2019 को आगे बढाते हुए संशोधित कार्यक्रम किया गया निर्धारित
Image
बक्सर :: 16 दिसंबर को बलात्‍कार‍ियों को फांसी, बक्‍सर जेल में फंदा बनने के बाद अटकलें तेज
कुशीनगर :: बांसी धाम पर कार्तिक पूर्णिमा के पूर्व संध्या पर किया गया गंगा आरती
Image
बगहा(प.चं.) :: हर्षोल्लास के साथ महिलाओं ने मनाया करवा चौथ का ब्रत चांद देखकर तोड़ा व्रत
Image