कुशीनगर :: सड़क पर बनाया गया है पार्किंग, माल की पार्किंग के जगह पर चल रही हैं अवैध तरीके से दुकानें

आदित्य प्रकाश श्रीवास्तव, कुशीनगर केसरी, पडरौना, कुशीनगर। पडरौना शहर में पी डब्ल्यू डी की पार्किंंग की जमीन को अधिकारियोंं द्धारा अतिक्रमण का शिकार बना दिया गया तथा अतिक्रमणकारियोंं द्धारा नालियों का निर्माण कराया गया। जिसका कोई टेंडर भी किसी समाचार पत्र में नहीं निकला गया तथा लाखोंं रूपये का भुगतान भी नगर पालिका द्धारा अबैध रूप से करा लिया गया। अगर जांच किया जाय तो पत तो चल ही जाएगा लेकिन बिल्ली के गले में घंटी कौन बांंधेगा।


प्राप्त जानकारी के अनुसार कुशीनगर जिले के कठकुईयां मोड़ के पास कसया रोड एनएच २८ बी के बगल में पी डब्ल्यू डी की पार्किंंग की जमीन अधिकारियोंं द्धारा अतिक्रमण का शिकार बना दिया गया है। पडरौना शहर स्थित सिटी कार्ट माल व V2 माल के पार्किंग के लिए निचली सतह पर पार्किंग के लिए बनाया गया है लेकिन उसमें दुकाने खोल दी गई हैं और सड़क के किनारे पार्किंग बना दिया गया है जिसे आम लोगों को जाम की परेशानियों का सामना करना पड़ता है जिसे देखते हुए कुशीनगर एसडीएम ने जाँच किया तो पाया कि ये पूरी दुकाने अवैध तरीके से चल रही है जिसके बाद एसडीएम से गृह स्वामी द्वारा 4-5 दिन का समय मांगा गया है। जिसके बाद दुकाने हटाने के लिए ये समय एसडीएम द्वारा दे दिया गया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार  15-20 रोज पहले भी एसडीएम द्वारा इसकी जाँच कर करवाई करने के लिए कहा गया था फिर दुबारा वैसे ही स्थिति मिलने पर सख्त हिदायत देते हुए 4-5 दिन का समय दिया गया है उसके बाद अगर दुकाने नहीं हटाई जाती है तो उनके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की जाएगी जिसके बाद वहा से खड़ी सभी गाडियों को तुरन्त हटाया गया इस मौके पर यातायात पुलिस प्रभारी व पडरौना कोतवाल मौके पर मौजूद रहे।


Popular posts
कुशीनगर :: प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय में धूम-धाम से मनाया गया वार्षिकोत्सव कार्यक्रम
Image
मिर्जापुर :: मुख्य विकास अधिकारी ने विकास भवन कार्यालय का किया निरीक्षण, कार्यालय का हस्ताक्षर बनाकर ही जाए फील्ड में दिया निर्देश
बेतिया(प.चं.) :: बाल मजदूरी बच्चों का काम नहीं पर फकिराना सिस्टर सोसाइटी में कार्यशाला का हुआ आयोजन
Image
बगहा(प.चं.) :: आगामी 19 जनवरी को लगने वाली विशाल मानव श्रृंखला की तैयारी में जुटे हैं कलाकार
Image
पटना :: कड़ाके की ठंड के कारण आंगनबाड़ी केंद्रों के संचालन के समय में बदलाव, जानिए नया टाइम टेबल