बेतिया :: चंपारण सत्याग्रह के महानायक मौलाना मजहरूल हक की 154 वी जन्मदिवस पर सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन ने देश के प्रत्येक जिलों में 10000 क्षमता के आपदा क्लीनिक स्थापित करने की पुन: सरकार से की मांग

शहाबुद्दीन अहमद, कुशीनगर केसरी, बेतिया(प.चं.) बिहार। आज २२ दिसंबर को सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन के सभागार सत्याग्रह भवन में चंपारण सत्याग्रह के महानायक महान स्वतंत्रता सेनानी सह राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सच्चे मित्र मौलाना मजहरूल हक की 154 वी जन्मदिवस पर एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया! जिसमें विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों ,बुद्धिजीवियों, गांधीवादी चिंतको एवं छात्र छात्राओं ने भाग लिया। इस अवसर पर सर्वप्रथम राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं मौलाना मजहरुल हक को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।


इस दौरान अंतर्राष्ट्रीय पीस एंबेसडर सह सचिव सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन डॉ एजाज अहमद (अधिवक्ता) ने कहा कि आज ही के दिन आज से 154 वर्ष पूर्व 22 दिसंबर 1866 को चंपारण सत्याग्रह के महानायक मजहरुल हक का जन्म बिहार के पटना में हुआ था !उनका सारा जीवन राष्ट्र के लिए समर्पित रहा !10 अप्रैल 1917 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी चंपारण सत्याग्रह के लिए जब पटना पहुंचे तब मौलाना मजहरूल हक के साथ बैठक कर चंपारण सत्याग्रह की रूपरेखा तैयार की गई! देखते ही देखते लगभग 30 वर्षों बाद ही भारत अंग्रेजों की दासता से आजाद हो गया! इस अवसर पर वरिष्ठ अधिवक्ता शंभू शरण शुक्ल ने कहा कि मौलाना मौजूद हक की 154 वी जन्मदिवस पर सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन ने पुन: सरकार से मांग करते हुए करती है कि देश के प्रत्येक जिलों में लगभग 10,000 क्षमता के आपदा क्लिनिक का स्थापित की जाए ताकि भविष्य में आने वाले किसी भी प्राकृतिक आपदा से भारत को बचाया जा सके! इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि आपदाओं से बचने के लिए लोगों को जागरूक करते हुए प्रत्येक जिलों में 10000 क्षमता आपदा क्लीनिक सरकार द्वारा अविलंब निर्माण कार्य आरंभ किया जाए! यही होगी स्वतंत्रता सेनानियों एवं राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जन्म शताब्दी पर सरकार द्वारा श्रद्धांजलि दिया गया !


Popular posts
कुशीनगर :: भूमि के झगड़े को लेकर एक अधेड़ को पीटकर उतारा मौत के घाट, केस दर्ज, चार हिरासत में
मोतिहारी :: डीएसपी दिनेश कुमार पांडेय ने बच्चों को दिया शिक्षा, पढ़ाया संस्कार और नैतिकता का पाठ
Image
कुशीनगर :: रिपोर्ट के बारे में पूछने गए गुण्डागर्दी करते हुए डाक्टर ने परिजन को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, मुकदमा नहीं हुआ दर्ज, पीड़ित हुआ न्याय से वंचित
Image
कुशीनगर :: गोरखपुर -फैजाबाद खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचक नामावलियों के पुनरीक्षण हेतु दावे/आपत्तियां प्राप्त करने की निर्धारित अंतिम तिथि 26 दिसंबर 2019 को आगे बढाते हुए संशोधित कार्यक्रम किया गया निर्धारित
Image
कुशीनगर :: पडरौना बाईपास सड़क निर्माण कार्यों में होने वाले भ्रष्टाचार का जीता जागता उदाहरण है, जल्द डीएम से मिलकर कुशीनगर सिविल सोसाइटी भ्रष्टाचार के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही का अनुरोध करेगा : गिरीशचन्द्र चतुर्वेदी
Image