बेतिया(प.चं.) :: अंचल अधिकारी को नदी, तालाब, आहर,व पाइन से अतिक्रमण हटाने का निर्देश : जिला प्रशासन

शहाबुद्दीन अहमद, कुशीनगर केसरी, बेतिया(प.चं.) बिहार। जिला प्रशासन के द्वारा सभी अंचल अधिकारियों को उनके अंतर्गत पड़ने वाले नदी, तालाब आहार ,कुआं और प इन से अतिक्रमण हटाने के लिए निर्देश जारी कर दिया गया है, इसी क्रम में अभी तक जो कार्यक्रम हुआ है उसमें 31% अतिक्रमण हटाया जा चुका है ,शेष अतिक्रमण हटाने के लिए अंचल अधिकारियों की जिम्मेदारी दी गई है कि मार्च 2020 तक किसी कीमत पर अतिक्रमण को हटा दें।


अतिक्रमण हटाने के लिए 31 दिसंबर की तिथि प्रशासन द्वारा निर्धारित की गई थी, जिसके आलोक में जिले के कई प्रखंडों और जिला मुख्यालयों में कार्य संपादित किया गया, कई नदी, तालाब ,आहार , कुएं व प इन पूरी तरह से अतिक्रमण मुक्त किया जा चुके हैं ,लेकिन अभी भी अतिक्रमण का जाल फैला हुआ है ,इस कार्य को पूरा करने के लिए जिला प्रशासन के द्वारा ३१ दिसंबर को आगे बढ़ाते हुए मार्च 2020 का समय निर्धारित किया गया है, डीडीसी रविंद्र नाथ प्रसद सिंह ने संवाददाता को बताया कि जिले के सभी तालाब, नदी, आहर, कुवां को पूरी तरह से अतिक्रमण मुक्त करने की योजना को लेकर सरकार काफी गंभीर है, सभी अंचलाअधिकारियों को यह निर्देश जारी कर दिया गया है कि अपने अपने क्षेत्र में पड़ने वाले तालाबों को पूरी तरह से मुक्त कराने की दिशा में अगर किसी प्रकार की परेशानी होती है तो उसका प्रतिवेदन जिला मुख्यालय को भेजा जाए ताकि इस पर आगे की कार्रवाई हो सके।
जिला प्रशासन के द्वारा किए गए सर्वेक्षण के अनुसार जिले में कुल 5495 कुआं की संख्या है, बगहा में 1231 की संख्या में कुआं है, इसके बाद रामनगर में 522 है। जिले के सभी प्रखंडों व जिला मुख्यालय मिलाकर कुल 2206 तालाब की भौगोलिक स्थिति आंकी गई है ,जलाशयों को अतिक्रमण मुक्त करने तथा कार्य नगर परिषदों व ग्रामीण इलाकों में यह कार्य मनरेगा द्वारा किया जाएगा।


Popular posts
कुशीनगर :: भूमि के झगड़े को लेकर एक अधेड़ को पीटकर उतारा मौत के घाट, केस दर्ज, चार हिरासत में
मोतिहारी :: डीएसपी दिनेश कुमार पांडेय ने बच्चों को दिया शिक्षा, पढ़ाया संस्कार और नैतिकता का पाठ
Image
कुशीनगर :: रिपोर्ट के बारे में पूछने गए गुण्डागर्दी करते हुए डाक्टर ने परिजन को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, मुकदमा नहीं हुआ दर्ज, पीड़ित हुआ न्याय से वंचित
Image
कुशीनगर :: गोरखपुर -फैजाबाद खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचक नामावलियों के पुनरीक्षण हेतु दावे/आपत्तियां प्राप्त करने की निर्धारित अंतिम तिथि 26 दिसंबर 2019 को आगे बढाते हुए संशोधित कार्यक्रम किया गया निर्धारित
Image
कुशीनगर :: पडरौना बाईपास सड़क निर्माण कार्यों में होने वाले भ्रष्टाचार का जीता जागता उदाहरण है, जल्द डीएम से मिलकर कुशीनगर सिविल सोसाइटी भ्रष्टाचार के विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही का अनुरोध करेगा : गिरीशचन्द्र चतुर्वेदी
Image