मोतिहारी :: आत्महत्या के लिए उत्प्रेरित करने में पति को पांच व सास को तीन वर्षों का सश्रम कारावास

विजय कुमार शर्मा, कुशीनगर केसरी, बिहार, मोतिहारी। षष्टम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश ब्रजमोहन सिंह ने दहेज के लिए प्रताड़ित कर आत्महत्या करने पर मजबूर करने के लिए मृतका के पति को पांच वर्ष व सास को तीन वर्षो के सश्रम कारावास तथा प्रत्येक को दस-दस हजार रुपये अर्थदंड की भी सजा सुनाई।अर्थदंड नहीं देने पर तीन माह की अतिरिक्त सजा काटनी होगी। सजा मेहसी थाना के कसबा मेहसी निवासी मुकेश बैठा व उसकी मां रंजू देवी को हुई। मामले में मुजफ्फरपुर जिले के कथैया थाना क्षेत्र के हरदी निवासी रंजीत बैठा ने मेहसी में प्राथमिकी दर्ज कराते हुए दोनों को नामजद किया था। इसमें कहा था कि उसकी बहन कविता की शादी 2004 में मुकेश बैठा के साथ शादी की थी। शादी के कुछ दिन बाद से ही दोनों नामजद लोग दहेज में मोटरसाइकिल व सोने की चेन की मांग करने लगे। वे लोग उसकी बहन को दहेज के लिए इतना प्रताड़ित करते रहे। इसी बीच 18 जुलाई 2007 को उसकी बहन ने आत्महत्या कर ली। विचारण के दौरान अपर लोक अभियोजक प्रभाष त्रिपाठी ने आठ गवाहों को न्यायालय में प्रस्तुत कर अभियोजन पक्ष रखा। न्यायाधीश ने नामजद दोनों अभियुक्तों को दोषी पाते हुए धारा 306 भादवि में इन दोनों को दोषी पाते हुए उक्त सजा सुनाई।


Popular posts
बेतिया(प.चं.) :: टैंकर की ठोकर लगने से एक व्यक्ति की मौत, 2 जख्मी
बेतिया(प.चं.) :: महात्मा गांधी व कस्तूरबा गांधी की 150वीं जन्म शताब्दी पर राष्ट्रीय सद्भावना सम्मान से सम्मानित होंगे बाबूराम दुसाद
Image
कुशीनगर :: आर्केस्ट्रा डांस को लेकर मेले में दो पक्षों में हुआ बवाल , पुलिस ने भांजी लाठियां
Image
कुशीनगर :: भारत सरकार और कोर्ट के आदेश एवं सोसल डिस्टेंस की सरेआम धज्जिया उड़ाकर स्थानीय प्रशासन को दी जा रही है चुनौती, अधिकारी बने धृतराष्ट्र
Image
मिर्जापुर :: मुख्य विकास अधिकारी ने विकास भवन कार्यालय का किया निरीक्षण, कार्यालय का हस्ताक्षर बनाकर ही जाए फील्ड में दिया निर्देश