बेतिया(प.च.) :: दशकों से सिल्ट से भरे मुख्य नालों की होगी सस्ती उड़ाही

शहाबुद्दीन अहमद, बेतिया(प.चं.), बिहार। नप सभापति गरिमा देवी सिकारिया ने बताया कि बीते एक दशक में ठेका विधि से नालों की सफाई व उड़ाही पर कई करोड़ के खर्च के बावजूद इसका बहुत लाभ नहीं मिल पाया है। अब नयी व्यवस्था के तहत सालों भर नाले नालों की सफाई व उड़ाही के 40 कर्मियों का एक विशेष कार्यबल बनाया जा रहा है। इसमें प्रत्येक 5 कर्मियों का दल प्रत्येक 5 वार्डों में सालों भर केवल नालों से जल निकासी व्यवस्था को सुचारू बनाये रखने का ही कार्य करेगा।सभापति ने बताया कि बरसात आने में अभी करीब तीन माह का समय बाकी है। इस विशेष कार्यबल(स्पेशल टास्कफोर्स) के माध्यम से अपने शहर को पूर्णतया जल जमाव मुक्त बनाने का उनका सपना साकार हो सकेगा। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही वर्तमान में आउट सोर्सिंग से कार्यरत 31 अतिरिक्त ड्राइवर की संख्या अब निविदा प्रक्रिया पूरी होने के बाद आउट सोर्सिंग से 61 हो जाएंगे। साथ ही वर्तमान में आउट सोर्सिंग के माध्यम से 88 सफाईकर्मी व झाड़ूकस कार्यरत है, नए आउटसोर्सिंग से टेंडर के बाद नाला सफाई दल के साथ इनकी संख्या बढ़कर 128 हो जाएगी। सभापति ने बताया कि टेंडर के बाद उपरोक्त कोटियों में विभिन्न पदों पर कुल-205 कर्मियों की आउट सोर्सिंग एजेंसी के द्वारा नगर परिषद में लेने के बोर्ड के निर्णय एवं विभागीय दिशा निर्देश का अनुपालन फरवरी माह से हो जाएगा।


Popular posts
बेतिया(प.चं.) :: विश्व शांति दूतों का हुआ अंतराष्ट्रीय सम्मेलन
Image
कुशीनगर :: भारत सरकार और कोर्ट के आदेश एवं सोसल डिस्टेंस की सरेआम धज्जिया उड़ाकर स्थानीय प्रशासन को दी जा रही है चुनौती, अधिकारी बने धृतराष्ट्र
Image
कुशीनगर :: गोरखपुर -फैजाबाद खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचक नामावलियों के पुनरीक्षण हेतु दावे/आपत्तियां प्राप्त करने की निर्धारित अंतिम तिथि 26 दिसंबर 2019 को आगे बढाते हुए संशोधित कार्यक्रम किया गया निर्धारित
Image
कुशीनगर :: आयुक्त गोरखपुर मंडल ने कहा कि अयोध्या फैसले पर आपसी सौहार्द बनना नैतिक जिम्मेदारी
Image
पटना :: अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाएंगे हाई और प्लस 2 स्कूलों के शिक्षक