पटना :: मानव श्रृंखला को लेकर नीतीश सरकार अपने ही आदेश से पलटी, जारी किया बड़ा आदेश

विजय कुमार शर्मा बिहार, पटना। बिहार सरकार का शिक्षा विभाग अपने पहले के आदेश से पलट गया है। शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आर के महाजन ने स्पष्ट किया है कि मानव श्रृंखला निर्माण में बच्चों की भागीदारी स्वेच्छा से होगी। किसी भी प्रकार का बाध्यकारी आदेश निर्गत नहीं किया जाएगा।


इसके पहले शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आर के महाजन ने ही सभी शिक्षकों छात्रों को मानव श्रृंखला में शामिल होने का आदेश दिया था। इसके बाद मानव श्रृंखला में शामिल होने को बाध्य करने पर 8 जनवरी को शिक्षक संघ की तरफ से पटना हाई कोर्ट में याचिका दाखिल किया गया है। शिक्षा विभाग ने कहा है कि मानव श्रृंखला निर्माण का यह कार्यक्रम मुख्यत: पर्यावरण संरक्षण के मुद्दे पर लोगों को जागरुक बनाने का है। इस कार्यक्रम में हमें नई पीढ़ी को यह समझाना है कि पानी, पेड़ पौधे एवं हरियाली का दुरुपयोग नहीं करें और अधिक से अधिक पेड़ लगाएं।


यह कार्य मानवता के व्यापक हित में है और शिक्षा का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसलिए आम लोगों से, कर्मचारियों, शिक्षकों से अपील की गई है कि वे अधिक से अधिक संख्या में श्रृंखला में भाग लें। लेकिन कोई कर्मचारी, कोई शिक्षक, छात्र-छात्रा, कोई व्यक्ति इसमें भाग लेना नहीं चाहते हैं तो उसके विरुद्ध कोई दंडात्मक कार्रवाई नहीं की जाएगी।


Popular posts
बेतिया(प.चं.) :: विश्व शांति दूतों का हुआ अंतराष्ट्रीय सम्मेलन
Image
कुशीनगर :: भारत सरकार और कोर्ट के आदेश एवं सोसल डिस्टेंस की सरेआम धज्जिया उड़ाकर स्थानीय प्रशासन को दी जा रही है चुनौती, अधिकारी बने धृतराष्ट्र
Image
कुशीनगर :: गोरखपुर -फैजाबाद खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचक नामावलियों के पुनरीक्षण हेतु दावे/आपत्तियां प्राप्त करने की निर्धारित अंतिम तिथि 26 दिसंबर 2019 को आगे बढाते हुए संशोधित कार्यक्रम किया गया निर्धारित
Image
कुशीनगर :: आयुक्त गोरखपुर मंडल ने कहा कि अयोध्या फैसले पर आपसी सौहार्द बनना नैतिक जिम्मेदारी
Image
सोनभद्र :: दूसरी बार सी आई.एस.एफ रिहंद ने गरीबो में किया अनाज वितरण
Image