बेतिया(प.चं.) :: सिविल सर्जन ने डॉक्टरों से मांगा स्पष्टीकरण, मानदेय पर लगाई रोक

शहाबुद्दीन अहमद, बेतिया(प.चं.), बिहार। अस्पताल प्रशासन ने चार डॉक्टरों से जवाब तलब करते हुए उनके मानदेय निकासी पर रोक लगा दी गई है, इस बात की जानकारी सिविल सर्जन बेतिया, अरुण कुमार सिन्हा ने दिया है।


घटना के संबंध में उन्होंने बताया कि राज्य स्वास्थ्य समिति पटना के पत्र के आलोक में सिविल सर्जन ने कहा है कि 4 डॉक्टरों द्वारा संस्थान में ओपीडी के कार्यों में लापरवाही बढ़ती जा रही थी, गर्भवती यों का सिजेरियन ऑपरेशन नहीं कराया जा रहा था, जिससे यही लगता है कि उनके द्वारा कार्यों में अभी रुचि नहीं लिया जा रहा था, सिविल सर्जन ने संवाददाता को बताया कि अनुमंडल अस्पताल बगहा के डॉक्टर राजीव कुमार ,रिजवाना खुर्शीद, अनुमंडल अस्पताल नरकटियागंज के अनुराधा खेमका , गौनाहा अस्पताल के डॉक्टर सुशील कुमार से स्पष्टीकरण पूछने के साथ-साथ उनके मानदेय निकासी पर भी रोक लगा दी गई है। सिविल सर्जन बेतिया के द्वारा डॉक्टरों पर इस तरह की कार्रवाई करना आम जनता के हित में है ,अगर इसी तरह कार्रवाई आगे होती रही तो इन लापरवाह डॉक्टरों का अपनी मर्जी और ड्यूटी में लापरवाही करना महंगा पड़ेगा।


Popular posts
बेतिया(प.चं.) :: विश्व शांति दूतों का हुआ अंतराष्ट्रीय सम्मेलन
Image
कुशीनगर :: भारत सरकार और कोर्ट के आदेश एवं सोसल डिस्टेंस की सरेआम धज्जिया उड़ाकर स्थानीय प्रशासन को दी जा रही है चुनौती, अधिकारी बने धृतराष्ट्र
Image
कुशीनगर :: गोरखपुर -फैजाबाद खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचक नामावलियों के पुनरीक्षण हेतु दावे/आपत्तियां प्राप्त करने की निर्धारित अंतिम तिथि 26 दिसंबर 2019 को आगे बढाते हुए संशोधित कार्यक्रम किया गया निर्धारित
Image
कुशीनगर :: आयुक्त गोरखपुर मंडल ने कहा कि अयोध्या फैसले पर आपसी सौहार्द बनना नैतिक जिम्मेदारी
Image
बेतिया(पश्चिम चंपारण) :: फांसी लगाकर युवती ने किया आत्महत्या, पुलिस शव को कब्जे में लेकर आवश्यक कार्यवाही में जुटी
Image