मुम्बई :: स्वरों के देवी स्वर कोकिला लता ने दुनिया को कहा अलविदा

डेस्क, कुशीनगर केसरी, मुंबई, महाराष्ट्र। देश में  सुरों की कोकिला कहे जाने वाले “ऐ मेरे बतन के लोगो जरा आंंख मे भर लो पानी” को स्वर देेेने वाली स्वर कोकिला लता मन्गेशकर आज दुनिया को अलविदा कह गई। लता मंगेशकर भारत की सबसे लोकप्रिय और आदरणीय गायिका थी, जिनका छ: दशकों का कार्यकाल उपलब्धियों से भरा पड़ा है।


हालाँकि लता जी ने लगभग तीस से ज्यादा भाषाओं में फ़िल्मी और गैर-फ़िल्मी गाने गाये हैं लेकिन उनकी पहचान भारतीय सिनेमा में एक पार्श्वगायक के रूप में रही है। उनको भारत रत्न, पद्म विभूषण, पद्म भूषण, दादा साहब फाल्के पुरस्कार से नवाजा जा चुका है लेकिन आज वह स्वर कोकिला इस जहां को अलविदा कह कर सुर के एक महान हस्ती को समाप्त कर गई।


Popular posts
कुशीनगर :: रिपोर्ट के बारे में पूछने गए गुण्डागर्दी करते हुए डाक्टर ने परिजन को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, मुकदमा नहीं हुआ दर्ज, पीड़ित हुआ न्याय से वंचित
Image
बेेतिया(प.चं.) :: राष्ट्रीय महिला दिवस पर याद कर महान स्वतंत्रता सेनानी सरोजिनी नायडू को दी गई भावभीनी श्रद्धांजलि
Image
कुशीनगर :: भाजपा सरकार है किसान विरोधी, तीन बर्षो से नहीं बढ़े गन्ने के दाम : मनोज मोदनवाल
Image
रांची(झारखंड) :: रंगदारी मांगने वाले पांडेय गिरोह का गुर्गा धराया, हथियार जब्‍त
Image
मिर्जापुर :: कोरोना जैसी वैश्विक महामारी की खात्मा के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री व सांसद ने भगवान बुद्ध से किया प्रार्थना, कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने घर पर ही सादगी पूर्वक मनाया बुद्ध पूर्णिमा
Image