बेतिया(प.च.) :: जिले के चीनी मिलों द्वारा किसानों को 150599.37 लाख रूपये का किया गया भुगतान

शहाबुद्दीन अहमद, कुशीनगर केसरी, बेतिया पश्चिम चंपारण, बिहार। पेराई सत्र 2018-19 में जिले के विभिन्न चीनी मिलों द्वारा 150599.37 लाख रूपये (97.19 प्रतिशत) का भुगतान गन्ना किसानों को कर दिया गया। जहां लौरिया चीनी मिल द्वारा गन्ना किसानों को शत-प्रतिशत भुगतान किया गया है।


जिलाधिकारी, डाॅ0 निलेश रामचंद्र द्वारा लौरिया चीनी मिल प्रबंधन को धन्यवाद ज्ञापित किया गया है। विदित हो कि लौरिया चीनी मिल (एचबीएल) के सीईओ, राजा किशोर बारिक द्वारा अथक प्रयास के उपरांत गन्ना किसानों को शत-प्रतिशत भुगतान किया गया। सीईओ, एचबीएल, लौरिया द्वारा एचपीसीएल, मुंबई से समन्वय स्थापित कर एक महीने पूर्व से ही लोन मंजूरी हेतु आग्रह किया गया था। एचपीसीएल, मुंबई द्वारा 15 दिन पहले ही लोन की मंजूरी दी गयी। तदुपरांत दिनांक- 5 नवंबर से 13 नवंबर के बीच 3519.20 लाख रूपये बकाया राशि का भुगतान लौरिया चीनी मिल द्वारा गन्ना किसानों के बीच कर दिया गया। दिनांक-4 नवंबर 2019 तक लौरिया चीनी मिल द्वारा 6945.70 लाख रूपये का भुगतान किया जा चुका था। इस तरह कुल 10464.90 लाख रूपये का शत-प्रतिशत भुगतान कर दिया गया है। हरिनगर चीनी मिल द्वारा 51595.59 लाख रूपये का भुगतान गन्ना किसानों को कर दिया गया है। इसी तरह नरकटियागंज चीनी मिल द्वारा 37179.82 लाख रूपये, लौरिया चीनी मिल द्वारा 10464.90 लाख रूपये, बगहा चीनी मिल द्वारा 35782.84 लाख रूपये एवं मझौलिया चीनी मिल द्वारा 15576.22 लाख रूपये का भुगतान कर दिया गया है। जिलाधिकारी, डाॅ0 देवरे ने कहा है कि जिला प्रशासन गन्ना किसनों के प्रति काफी संवेदनशील है। उन्होंने कहा कि मझौलिया चीनी मिल को 7 दिनों में बकाया राशि का भुगतान करने का निदेश दिया गया है।


Popular posts
मोतिहारी :: कुख्यात टुन्ना सिंह और राहुल सिंह की मोतिहारी कोर्ट में पेशी
बेतिया(पश्चिम चंपारण) :: चोरों ने घर व साइकिल की दुकान का ताला तोड़कर लाखों के सामान उड़ाए, मुकदमा दर्ज
कुशीनगर :: भूमि के झगड़े को लेकर एक अधेड़ को पीटकर उतारा मौत के घाट, केस दर्ज, चार हिरासत में
कुशीनगर :: रिपोर्ट के बारे में पूछने गए गुण्डागर्दी करते हुए डाक्टर ने परिजन को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, मुकदमा नहीं हुआ दर्ज, पीड़ित हुआ न्याय से वंचित
Image
बेतिया(पश्चिम चंपारण) :: महिला चिकित्सक व उनके कर्मी द्वारा पत्रकार के साथ किया गया दुर्व्यवहार, संघ से पत्रकार ने की विधि सम्मत कार्यवाही की लगाई गुहार